Essay on Christmas in Hindi

क्रिसमस पर निबंध – Essay on Christmas in Hindi

Essay on Christmas in Hindi : आज हमने क्रिसमस पर निबंध लिखा है क्रिसमस ईसाइयों का सबसे बड़ा त्यौहार हे ईसाई धर्म के लोग इसे बहुत धूम धाम से मनाते है। क्रिसमस का त्यौहार पुरे विश्व में प्रतिवर्ष 25 दिसंबर को मनाया जाता है।  इस त्यौहार में सभी धर्मो के लोग हिस्सा लेते है क्रिसमस शांति और खुशियों का प्रतीक है. इस दिन प्रभु ईसा मसीह का जन्म हुआ था. क्रिसमस के आने से पहले ही बाजरो में रौनक आने लगती है, बाजार सजने लगते है लोग अपने घरो को सजाने लगते हे।

क्रिसमस पर निबंध

भूमिका –

क्रिसमस का त्यौहार ईसाइयो द्वारा पुरे विश्व में मनाया जाता हे और यह 25 दिसंबर को मनाया जाता है. ईसाई धर्म के लोगो का मानना हे की इसदिन भगवान् ईसा मसीह का जन्म हुआ ता। इसलिए वह उनके जन्म दिवस को उनके त्यौहार के रूप में मानते है और कृषि और उत्साह के पल बिताते हे।

क्रिसमस के पर्व पर लोग एक दूसरे के घर जाकर एक उन्हें मुबारक बात देते है. सभी लोग सांता क्लाज़ बनकर एक दूसरे के घर जाते है रात में उपहार देते है, खासतौर पर बच्चो को उपहार देते है, बच्चे इन्तजार में लगे रहते है और अपने परिवार से पूछते है की कब सांता आयेगा और उन्हें गिफ्ट देगा और रात में सांता आता है और बच्चो को गिफ्ट देता है।

परंपरा और मान्यता-

पुराणी मान्यताओं के अनुसार मरियम के पुत्र का जन्म ईसा मसीह के रूप में हुआ था, पुराणी कथाओ के अनुसार ईसा मशीह के माता मरियम के पास स्वर्ग से दूत आये और कहा की  तेरे विवाह से पूर्व एक लड़का होगा जो संसार में रहने वाले लोगो को कस्तो से मुक्ति का रास्ता दिखाएगाऔर लोगो का उद्धार करेगा।

क्रिसमस के दिन लोगअपने दोस्त और रिस्तेदारो को सुन्दर ग्रीटिंग कार्ड भेजते है और आपस में सुन्दर- सुन्दर कविताएं लिखते है. इस पर्व में मिठाई, चॉकलेट,   क्रिसमस पेड़, सजावटी वस्तुएँ आदि भी पारिवारिक सदस्यों, दोस्तों, रिश्तेदार और पड़ोसियों को देने की परंपरा है। लोग बड़े जोरो शोरो से इसमें जुट जाते है, इस दिन को लोग गा कर और नाचकर बिताते है

ईसा मशीह ने दीन दुखी लोगों को ईश्वर के करीब जाने का मार्ग बताया, और सदैव उन्होंने लोगो को भाईचारे एवं प्रेम से रहने का संदेस दिया है उन्होंने खासतौर पर लोगो को क्षमा करने के लिए प्रेरित किया है।

क्रिसमस का आयोजन –

Essay on Christmas in Hindi

क्रिसमस की तैयारियां एक माह पूर्व ही होने लगती है, क्रिसमस आने से पहले लोग अपने घर की साफ़ सफाई करने लग जाते है उसमे रंग रोगान करवाते है,इस दिन लोग अपने घरो में क्रिसमस के पेड़ को सजाते है और अपने दोस्तों पडोसियो के साथ केक काटकर खुशिया मानते है।

यह उत्स्व इतना शानदार होता है की चारो और रौनक देखने को मिलती है बाजार सजने लगते है। चारो और रंगीन लाइटों से शहर जगमग हो जाता है. क्रिसमस के एक दिन पहले लोग घरो में रंग बिरंगी लाइट्स लगते है और सजावटी सामने से घर को सजा देते है।

इस खास मौके पर ढ़ेर सारे लजीज़ व्यंजन, मिठाई, बादाम आदि बनाकर डाईनिंग टेबुल पर लगाते है ताकि लोग उन्हें खाकर उनका लुफ्त उठा सखे. और लोग पार्टी का आयोजन करते है और नाच गाने के साथ इस पर्व को मनाते है।

क्रिसमस के विषय में कुछ तथ्य-

  • व्यापरियों के लिए क्रिसमस का महीना बहुत ख़ास होता है, यह समय सबसे मुनाफे वाला होता है।
  • यूरोप में क्रिसमस के दिन लगभग 60 लाख पेड़ हर साल लगाए जाते है।
  • एक पुस्तक के अनुसार क्रिसमस का पेड़ की सुरुवात सर्वप्रथम 1570 में की थी।
  •  25 दिसंबर को बेथलेहेम में ज़ोसेफ (पिता) और मैरी (माँ) के यहाँ प्रभु ईशा का जन्म हुआ था।

निष्कर्ष–

ईसाई समाज के लिए यह दिन बहुत विशेष होता है,इस दिन का वह पूरी साल इंतजार करते है क्रिसमस का त्योहार हमेशा कुश रहना सिखाता है और यह माफ़ करने के लिए प्रेरित करता है और यह सबको साथ रहना सिखाता है.पूरी दुनिया मई क्रिसमस के बारे में जानने के लिए बहुत कुछ बाते है।यह  सार्वजनिक और धार्मिक अवकाश होता है जब लगभग सभी सरकारी और गैर-सरकारी संस्थान बंद रहता है।

यह त्योहार ईसा मसीह के अच्छे कामो को याद करने के लिए मनाया जाता है,इस दिन लोग सेंटा के कपडे पहनकर बच्चो के घर जाते है और उन्हें गिफ्ट्स देते है.

यह त्योहार हमारे जीवन में नया रंग भर देता है इसीलिए यह त्योहार पूरी दुनिया में बड़े उत्साह से मनाया जाता है, इस अवसर पर लोग अक्सर होने मित्रो और रिस्तेदारो को  घर बुलाते है और पार्टी करते है.आनंद के साथ जिंगल जिंगल गाते है

और इस दिन लोगो में नई ऊर्जा का समागम होता है और यह त्योहार हमें इस बात के लिए प्रेरित करता है की जीवन में कितनी भी कठनाई आये हमें कभी भी हार नहीं माननी चाहिए

यह भी पढ़े :

कम्प्यूटर पर निबंध-Important Essay On Computer In Hindi

महाराणा प्रताप का इतिहास और कुछ रोचक तथ्य-Maharana Pratap History in Hindi

दोस्तों अगर आपको हमारा लिखा हुआ आर्टिकल Essay on Christmas in Hindi  पसंद आया हो तो अपने दोस्तों और परिवार के साथ शेयर करना न भूले और साथ ही कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताये।  धन्यवाद 

Admin

Hello, My name is vishnu. I am a second-year college student who likes blogging. Please have a look at my latest blog on hindiscpe

View all posts by Admin →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *