Essay On Republic Day In Hindi

गणतंत्र दिवस पर निबंध – Essay On Republic Day In Hindi

Essay On Republic Day In Hindi दोस्तों आज हमने गणतंत्र दिवस पर निबंध लिखा है गणतंत्र दिवस यह दिन हमारे देश के लिए बहुत ही मह्त्वपूण है इस दिन हमरे देश का सविधान लागु हुआ था। यह हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है इस दिन देश में कई कार्यक्रम आयोजित किये जाते है खासकर विद्यालयों एवं सरकारी संस्था में आयोजन होता है। निचे की और हमने गणतंत्र दिवस पर निबंध प्रस्तुत किया है।  हमारा यह आर्टिकल फेसबुक व्हाट्सप्प पर शेयर करना न भूले।

Best Essay On Republic Day In Hindi

प्रस्तावना-

भारत देश में हर वर्ष 26 जनवरी बड़े उत्शाह से गणतंत्र दिवस मनाया जाता है। क्योकि इस दिन भारत का सविधान लागु हुआ था।गणतंत्र दिवस इस दिन हमारे देश का संविधान लिखा गया था। इस दिन पूरे दफ्तरों ओर स्कूलों मै झंडा फहराया जाता है। देखा जाए तो हमारे देश को 1947 में ही आजादी मिल गई थी परन्तु हमारे देश में कोई काननू ओर लोकतंत्र नहीं था। फिर लगभग 3 साल बाद 26 जनवरी 1950 को हमारे देश का संविधान लिखा गया था और इस दिन से ही हमारा देश एक लोकतांत्रिक देश बना ओर इसके बाद यह हर साल राष्ट्रीय त्योहार के रूप में मनाया जाता है। इस दिन पूरे देश मै विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। बच्चे इनमें बड़ी उत्साह से भाग लेते है।

गणतंत्र दिवस का इतिहास-

भारतीय गणतंत्र का इतिहास बहुत ही रोचक और आकर्षक है 26 जनवरी 1950 (गुरुवार) को देश मै भारत सरकार अधिनियम को हटाकर लोकतंत्र को शामिल किया। लगभग 11 महीने ओर 18 दिनों मै भीम राव अंबेडकर ने इस संविधान को बनाकर तयार कर दिया था। 24 जनवरी 1950 को सब सदस्यों के हस्ताक्षर करवा लिए गए थे ओर 26 जनवरी 1950 को सुबह 10: 18 मिनिट पर सविधान लागू किया गया था।इस दिन से देश में कानून व्यवस्था लागू हो गई थी सबको समानता का अधिकार मिल गया था। आपको तो इस बात का ध्यान होगा की हमारा संविधान दुनिया का सबसे बड़ा सविधान माना जाता है। इसलिए 26 जनवरी को हर साल गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है।

यह भी पढ़े :दुर्गा पूजा पर निबंध-Essay on Durga Puja in Hindi

26 जनवरी की तैयारियां-

गणतंत्र दिवस की तैयारी लगभग 15 दिन पहले से ही शुरू हो जाती है। दिल्ली में इसका अलग ही रंग देखने को मिलता है. तिरंगे के रंगो में सारी सरकारी इमारतों को सजाया जाता है।बच्चो में इस दिन का बड़ा ही उत्साह होता है बच्चे डांस अब्यास  मै लग जाते हैं कुछ बच्चे भाषण प्रतियोगिता की तैयारियों में लग जाते हैं। सेना द्वारा विशेष कार्यक्रम की तैयारियां की जाती है। सभी सरकारी दफ्तरों मै रंगोली बनाई जाती हैं और दिल्ली राजपथ पर सुरक्षा के लिए लोगो की आवाजाही पर रोक लगा दी जाती है। जिससे किसी भी अपराधिक गतिविधि को रोका जा सके व पूरे राजपथ ओर लाल किले को दुल्हन की तरह सजाया जाता है।बच्चो के नृत्य संगीत का आब्यास शुरू होता है। सभी शहरों में गलियों में रंगोली बनाई जाती हैं सब 26 जनवरी को पहने के लिए नए सफेद कपड़े बनवाते हैं ओर साफ सफाई से शहर को चमका डालते हैं। दूसरे देशो से महमानो को आमंतित्र किया जाता है सारी तैयारियां होने के बाद सभी तैयारियों का जायजा लिया जाता है की कोई प्रग्राम में कमी तो नहीं रह गयी। एवं सब होने के बाद दिन आता हैं 26 जनवरी का और प्रोग्राम की सुरुवात होती है।

गणतंत्र दिवस का दिन-

गणतंत्र दिवस दिन इस दिन का सब लोग बड़ी बेसब्री से इंतजार करते हैं इस दिन लोग बड़े उत्साह से अपने काम पर जाते है। ओर अपने दफ्तर में झंडा फहराते हैं और स्कूल मै बच्चे अपनी स्कूल ड्रेस पहनकर जाते हैं कुछ बच्चो द्वारा उन दिन नाटक प्रस्तुत किया जाता है और कई बच्चे नृत्य करते हैं। भाषण प्रतियोगिता का आयोजन होता है छोटे बच्चो को इस दिन का महत्व समझाया जाता है। इसके बाद झंडा रोहण करके राष्ट्रगान गाया जाता है ओर मिठाई व चॉकलेट का वितरण किया जाता है। ओर इस दिन हमारे देश के राष्ट्रपति लाल किले से पूरे देश को लाल किले से संबोधित करते हैं इस दिन हमारे देश की तीनों सेनाओं की परेड होती हैं एवं देश के सारे मंत्री गण मौजूद रहते हैं। इसके साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाता है। ओर सेना के शूरवीर अपने देश का शक्ति प्रदर्शन करते हैं, एवं हमारे देश के राष्टीय ध्वज को सलामी देते हैं।ओर देश के सभी राज्यों की संस्कृति की झाकियों को दर्शाया जाता हैओर पूरे देश की सभी सरकारी इमारतों में झंडा फहराया जाता है। जिसका लाइव टीवी पर दर्शाया जाता है ओर देश के प्रतिष्ठित व्यक्तियों को पुरस्कृत किया जाता है।राजपथ पर परेड आयोजित की जाती हैं यह 8 किलोमीटर लंबी होती है तिरंगे को 21 तोपो की सलामी दी जाती है ओर 52 सेकेंड तक यह चालू रहती हैं। कार्यक्रम के अंत में तीन रंगों (केसरिया, सफेद, और हरा) के फूलों की बारिश वायु सेना द्वारा की जाती है।और कार्यकर्म को समाप्त करते है

निष्कर्ष-

गणतंत्र दिवस  का उत्सव हमारे लिए अत्यंत ही महत्वपूण है। यह हमारे देश में अनेकता में एकता को दर्शाता है इस दिन हम हमारे देश के सभी राज्यों की संस्कृति,सभयता, परम्परा आदि को प्रस्तुत करने का मौका मिलता है इस दिन के लिए न जाने कितने महापुरुषो ने अपना बलिदान दिया था और उनके बलिदान से ही हमारा देश विश्व के मानचित्र पर एक गणतांत्रिक देश के रूप में उभरा था। इस दिन के बाद ही लोगो ने  कानून को समझा लोगो को अपने अधिकारों का ज्ञान हुआ। लोकतान्त्रिक देश की स्थापना हुई। यही कारण है की लोग इसे बड़ी धूमधाम से मानते है। इस दिन सभी को ये वादा करना चाहिये कि वो अपने देश के संविधान की सुरक्षा करेंगे उसके ऊपर कोई आच नहीं आने देंगे देश में शांति बनाये रख्नेगे और साथ ही देश के विकास में योगदान देंगे।

अगर आपको हमरे द्वारा लिखा गया आर्टिकल Essay On Republic Day In Hindi पसंद आया हो तो अपने दोस्तों और परिवार के साथ शेयर करना न भूले और साथ ही कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेंट करके जरूर बातये। धन्यवाद 

Admin

Hello, My name is vishnu. I am a second-year college student who likes blogging. Please have a look at my latest blog on hindiscpe

View all posts by Admin →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *