friendship essay in hindi

दोस्ती पर निबंध Friendship Essay in Hindi

Friendship Essay in Hindi दोस्तों आज हमने दोस्ती पर निबंध लिखा है दोस्ती हमारे जीवन का सबसे कीमती तोफा है। वह हर व्यक्ति भागयशाली है जिसे मित्र है। यह हमारे जीवन में मिठास भर देता है दोस्त हमारे जीवन के हर मोड़ पर हमारे काम आता है।

Best Friendship Essay in Hindi-

भूमिका

मानव जीवन संघर्षों का घर है। उसे जीवन में कदम-कदम पर समस्याओं का सामना करना पड़ता है। मानव अकेला इन समस्याओं से मुक्ति नहीं पा सकता है। उसे इन समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए सच्चे मित्र की आवश्यकता होती है। जीवन में मित्रता से अधिक न कोई प्रसन्नता है और न ही सुख। तभी तो कहा है कि जिसने जीवन में सच्चे मित्र की खोज नहीं की, उसने जीवन का आनन्द खो दिया है। मित्रता करने में मानव को धैर्य से काम लेना चाहिए। अत: सच्चे मित्र के लिए जीवन का दान करना कठिन नहीं है, कठिन है सच्चा मित्र प्राप्त करना। मित्रता इंसान का सबसे बड़ी सम्पति है इसके बिना जीवन व्यर्थ है।

मित्रता : अमूल्य सम्पदा

मित्रता सच्चा धन है। जिस व्यक्ति के जितने अधिक सच्चे मित्र होते हैं, वह उतना ही अधिक धनी है। संसार में उसकी प्रतिष्ठा होती है। अतः हमें अपने जीवन में मित्रता के दायरे को विशाल बनाना चाहिए गली-मुहल्ले में, गाँव-शहर में, देश-विदेश में यदि आपके अनेक मित्र हैं, तो आपका जीवन सरल, सुखी तथा सम्मानीय हो सकता है। समय पड़ने पर धनी व्यक्ति का धन शायद उतना काम न आए जितनी किसी सच्चे मिश की मित्रता। अतः इस भौतिक युग में धन-संग्रह करते समय सच्चे मित्र खोना जीवन की सबसे अमूल्य सम्पदा को खोना है। संसार में सब कुछ मिल सकता है, परन्तु सच्चा तथा स्वार्थहीन मित्र मिलना कठिन है।

सच्ची मित्रता

मनुष्य के जीवन में अनेकों मित्र बन जाते हैं पर उनमें सच्चा मित्र कोई-कोई होता है। उसकी पहचान करना बहुत कठिन है। अत: मित्र बनाने में मनुष्य को बहुत सावधानी से काम लेना चाहिए। सच्ची मित्रता की नींव नि:स्वार्थ है। मित्रता में मनुष्य अपने मित्र के काम करके भूल जाता है, परन्तु अपने मित्र से काम लेने पर उसे याद रखता है। मित्रता के दो आवश्यक गुण हैं-प्रेम और विश्वास। मित्रता अधिक समय तक तभी रह सकती है जब हम अपने मित्र पर अटूट विश्वास रखें। सच्चा मित्र वह है जो केवल धन और सुख का साथी न हो, गरीबी और दुःखों में भी साथ निभाने वाला हो। मित्रता की परख विपत्ति में ही होती है तुलसीदास जी ने ठीक ही लिखा है-‘धीरज धरम मित्र और नारी। आपद काल परखिये चारी।

यह भी पढ़े ; क्रिकेट पर निबंध – Cricket Essay in Hindi

मित्रता के अनेक रूप

मित्रता के अनेक रूप देखे जा सकते हैं। बाल्यकाल की मित्रता धीरे-धीरे ‘सहपाठियों की मित्रता’ में बदल जाती है जो बहुत गहरी तथा स्थायी होती है। जैसी कृष्ण तथा सुदामा की मित्रता। युवाकाल में ‘व्यावसायिक मित्रता’ की बहुलता होती है। कभी-कभी दो भिन्न प्रवृत्ति वाले व्यक्तियों में भी मित्रता देखी गई है, जैसे-कर्ण और दुर्योधन तथा अकबर और बीरबल की मित्रता। इनके अतिरिक्त कॉफी हाउस के मित्र तथा पैन-फ्रेण्डज़ भी होते हैं।

अपने दोस्तों को बुद्धिमानी से चुनना

सभी दोस्त आपके जीवन में सकारात्मकता नहीं ला सकते। नकारात्मक प्रभाव भी हो सकते हैं। अपने मित्रों को अत्यंत बुद्धिमानी से चुनना बहुत महत्वपूर्ण है। सही दोस्त चुनना थोड़ा मुश्किल काम है लेकिन यह बेहद जरूरी है। इस घटना में कि उदाहरण के लिए हमारे कुछ प्रिय मित्र नकारात्मक व्यवहार पैटर्न से जुड़े हैं, उदाहरण के लिए, धूम्रपान, शराब पीना और ड्रग्स लेना, किसी न किसी समय हम उनकी बुरी आदतों के प्रति भी आकर्षित होंगे। यही कारण है कि मित्र बनाने के संबंध में उचित निर्णय लेना उचित है।

सच्ची दोस्ती वास्तव में एक ऐसा तोहफा है जो एक जोड़े को खुशी देता है। जिन लोगों के पास यह है, उन्हें अपने जीवन में सच्चे मोती होने के लिए भगवान के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करनी चाहिए और जिन लोगों के पास कुछ अच्छे दोस्त नहीं हैं, उन्हें हमेशा अच्छे दोस्तों को लंगर डालने के लिए बेहतर तरीके अपनाने चाहिए। जरूरत के बीच दोस्त को पास रखने से बेहतर कोई संस्था नहीं है। यदि आप अपने दोस्तों से घिरे हैं तो आप अपने एक कमरे के फ्लैट में खुश रहेंगे; तो फिर, यदि आप दूसरों से बहुत दूर हैं तो आप अपनी संपत्ति में भी संतुष्टि नहीं पा सकते हैं।

दोस्ती के फायदे

कभी-कभी दोस्ती हमारे जीवन में जरूरी होती है। दोस्ती के कुछ फायदे नीचे दिए गए हैं।

1. अपना जीवन हमेशा अकेले जीना असंभव है लेकिन दोस्ती उस अंतर को दोस्त की कंपनी से जल्दी भर देती है।
2. आप जीवन की कठिनाइयों को मित्रता के साथ आसानी से पार कर सकते हैं क्योंकि आपके संकट काल में आपके मित्र हमेशा आपकी सहायता के लिए मौजूद रहते हैं।
3. दोस्ती आपको जीवन में खुश रहना सिखाती है।
4. किसी भी तरह की उलझन या परेशानी की स्थिति में आपकी मित्रता हमेशा अच्छी राय देकर आपको लाभ पहुंचाएगी।

दोस्ती का महत्व

जीवन में दोस्त का होना बहुत जरूरी है। प्रत्येक मित्र महत्वपूर्ण है और उनका महत्व हमें तब पता चलता है जब कुछ परिस्थितियां सामने आती हैं जिन्हें हमारे मित्रों द्वारा समर्थित होना चाहिए। इस दुनिया में कोई भी अकेला महसूस नहीं कर सकता है जब तक कि उसे सच्चे दोस्तों ने गले नहीं लगाया हो। फिर, दुनिया में मौजूद अरबों लोगों की परवाह किए बिना, उन लोगों के जीवन में अवसाद जीत जाता है जिनके दोस्त नहीं होते हैं। आपातकाल और कठिनाइयों के समय में मित्र विशेष रूप से महत्वपूर्ण होते हैं। यदि आप कठिन समय का अनुभव कर रहे हैं, तो आपकी सहायता करने के लिए एक मित्र होने से परिवर्तन आसान हो सकता है।

जिन दोस्तों पर आप निर्भर हो सकते हैं, उनके होने से आपके आत्मविश्वास में मदद मिल सकती है। फिर से, दोस्तों की अनुपस्थिति आपको अकेलापन और मदद के बिना महसूस करा सकती है, जो आपको विभिन्न मुद्दों के लिए शक्तिहीन बनाती है, उदाहरण के लिए, उदासी और नशीली दवाओं का दुरुपयोग। कम से कम एक व्यक्ति जिस पर आप निर्भर हो सकते हैं, आपके आत्मविश्वास का निर्माण करेगा।

उपसंहार

मित्रता की जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में आवश्यकता होती हैं। यह सुख तथा दुःख दोनों अवस्थाओं के लिए होती है। इसकी हमें व्यवहार व्यापार तथा निजी जीवन में आवश्यकता रहती है। अत: हमें सच्चे मित्रों का क्षेत्र बढ़ाना चाहिए। सच्चा मित्र पा लेना जीवन की सर्वोत्तम उपलब्धि है। अंत में बस इतना ही कहना चाहता हु की अच्छे मित्र बनो कभी किसी का दिल न दुखाओ। और हमेशा अपने मित्र की हमेशा मदद करनी चाहिए।

अगर आपको हमारे हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल Friendship Essay in Hindi पसंद आया हो तो अपने परिवार या दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले और साथ ही कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेंट करे जरूर बताये।आर्टिकल को फेसबुक और व्हाट्सप्प पर शेयर करना न भूले। धन्यवाद 

Admin

Hello, My name is vishnu. I am a second-year college student who likes blogging. Please have a look at my latest blog on hindiscpe

View all posts by Admin →

Leave a Reply

Your email address will not be published.