sad poem in hindi

6+ बेस्ट Love Sad Poems in Hindi – कहना तो बहुत कुछ चाहता हूँ

आज की चर्चा का विषय Sad Poems in Hindi है आज हमने दुःख पर कविता लिखी है। दोस्तों आप कभी न कभी किसी से जुदा जरूर होते होंगे। और उसे भूलना आपके लिए बहुत ही कठिन होता है, इसलिए हमने आपके सच्चे प्यार (Love Sad Poem In Hindi ) के लिए कुछ कविताए लिखी है। 

कहना तो बहोत कुछ है तुझसे

Love Sad Poems in Hindi

कहना तो बहुत कुछ चाहता हूँ  तुझसे
मगर एक पल भी कहा भुला पता हूँ।

सच तो है की जीना है तेरे बगैर
मगर एक पल भी कहा भुला पता हूँ।

देखना चाहता हूँ  हर रात सपने
पर खुद को सुला नहीं पता हूँ

तू अगर देख पाती तो समझ जाती
की इस बेबसी को कहा छुपा पता हूँ

छलक जाता है दर्द आखो से कभी
पर में खामोश भी कहा रह पाता हूँ

लिए फिरता हूँ समंद्र इन आखो  में
मगर रो लू जी भर के ऐसा भी कहा कर पता हूँ

मुमकिन नहीं था जीना तेरे बगैर
मगर मजबूर हूँ
में मर भी कहा पता हूँ

जीना है तेरे बगैर
पर एक पल भी कहा रह पता हूँ।

Best Short Sad Poem In Hindi

sad poem in hindi

मुझे इन्तजार है ,
ज़िंदगी के आखरी पन्नो का
सुना है अंत में सब ठीक हो
जाता है

ऐ मेरे लाश
उठाने वाले…
देखना कोई बेवफा
पास न हो…
अगर हो तो उसे कहना,
आज ख़ुशी का मौका है
उदास न हो…

साए-ए किस्मत रुक जरा
यु साथ साथ न चल मेरे,
पल में कर बर्बाद जो करना
यु नमक जख्म न मॉल मेरे।

Love Sad Poem In Hindi

Love sad poem in hindi

दर्द तो दिल का था
और बेदर्द मेरा हमसफर निकला।

वो कब की भूल चुकी होगी
किस्सा वफा का मेरा
बेवफाई में टूटा दिल
किसको याद रहता है।

गम ने हसने ना दिया जमाने ने रोने न दिया
इस उलझन ने चैन से जीने नही दिया थक कर
जब सितारों से पनाह ली
नींद आई तो तेरी याद ने सोने न दिया।

मुझे प्यार में हारना पसंद था
पर तुझे हराकर जितना नही।

हाल क्या पूछते हो
यारो हम मजे में है
मोहब्बत हुई थी कभी
अभी तक नशे में है।

जिस तरह मैं समझता हूं लोगों को
कोई मुझे क्यों नहीं समझता
मेरे लिए रिश्ते बहुत मायने रखते हैं लेकिन
में क्यों किसी को ज़रूरी नहीं लगता
मेरा साथ कोई बुरा कर देता है ना
में उसके साथ वैसा नहीं कर पाता

Short Sad Poem In Hindi

Love Sad Poems in Hindi

यह भी पढ़े : पिता पर बेहतरीन कविताए

दुखो से भर गई है
ये जिंदगी अब
कोई तो होना चाहिए
हंसाने के लिए

सुना है मोहब्बत मिलती हैं
मोहब्बत के बदले
हमारी बारी आई तो रिवाज ही बदल गया।

मेरी ज़िंदगी का खेल तो
सतरंज से भी खतरनाक निकला
में हारा भी तो अपनी रानी से।

वक्त बेवक्त का करवा था कोन मुसाफिर बनने चला
हमे तो अपनी जिंदगी का होस नही पता था
कोन जिंदगी से लड़ने चला गया।

गम तो अपनो ने दिए हुए है
परायो ने तो उसके मजे लिए है।

यह भी पढ़े : 5+ फूलों पर बेहतरीन कविताएँ – Poem on Flowers in Hindi

Hindi Poems on Life

Sad Poems in Hindi

तुम इतने चुप क्यों हो, तुम आवाज भी नहीं करते,
मैं जो कुछ भी कहूं, क्या तुम इनकार नहीं करते?

अक्सर मौत के बाद सब खामोश हो जाते हैं,
बोलकर नया गाना क्यों नहीं शुरू कर देते?

वह अँधेरे में आँखें बंद करके बिस्तर पर सोएगा,
लेकिन सब लोग जाकर उन्हें क्यों नहीं देखते?

कई बार बीत गए, तुम्हारे जागने का इंतज़ार,
अल्फ़ाज़ वो काम क्यों नहीं करते जिससे वो आंसू बहाते हैं?

खाली कुर्सियाँ हैं, कुछ लोग इंतज़ार कर रहे हैं,
वे जाकर अपना बायां काम क्यों नहीं करते?

तुम कितना भी कर लो, मैं क्रोध सुनूंगा,
तुम मुझे अपनी बातों से परेशान क्यों नहीं करते?

आपके अंतिम दर्शन के लिए लोग हैं उमरे,
तुम उठकर अपने बड़ों की देखभाल क्यों नहीं करते?

Love Poem in Hindi

Sad Poems in Hindi

सुनना,
अब दिल भर आया है क्यूंकि मैंने बहुत प्यार किया है,
अब ये मत कहना कि तेरा दिल मेरे साथ है !!

सुनना,
बहुत दिनों से मेरे मन में एक बात चल रही थी, जो मैं आज बोल रहा हूँ,
ऐसा मत सोचो कि यह आदमी तुम्हारे पर्दाफाश पर अटका हुआ है !!

सुनना,
हम मोहब्बत में बहुत कैद थे,
अब सिर पर है आजादी का भूत !!

सुनना,
मैं क्या हूँ, मैं कैसा हूँ, मेरी नियति क्या है,
तुमने मेरी पूरी जिंदगी पढ़ी है !!

सुनना,
जो वादे तुमने किए थे
क्या यह सच है कि आपको खेद है?

सुनना,
कि यह बहुत अज्ञानी था जो आपको समझ नहीं सका,
मैं खुशनसीब हूँ कि मेरा दिल अब तुमसे बडा़ नफरत करता है !!

सुनना…

अगर आपको हमारे द्वारा लिखी गया (Sad Poems in Hindi) आर्टिकल पंसद आया हो तो फेसबुक और व्हाट्सअप पर शेयर करना न भूले और साथ ही कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेंट करके जुरूर बताये। धन्यवाद 

Admin

Hello, My name is vishnu. I am a second-year college student who likes blogging. Please have a look at my latest blog on hindiscpe

View all posts by Admin →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *