Poem On Independence Day In Hindi

15 अगस्त के लिए सुन्दर कविताएं – Independence Day Hindi Poem

Poem On Independence Day In Hindi दोस्तों आज हमने स्वतंत्रता दिवस पर कविता लिखी है। गणतंत्र दिवस हमारे देश में बड़े ही हर्षउल्लास  से मनाया जाता है। इस दिन हमारा देश अंग्रेजो के चंगुल से आजाद हुआ था। अकसर बच्चो को 15 अगस्त पर कविता लिखने को कहा जाता है हमारे इस लेख की मदद से आपको कविता लिखने में आसानी होगी।
यहाँ पर आप गणतंत्र दिवस पर कविता भी पढ़ सकते है।

Best Poem On Independence Day in Hindi

सस्ती नहीं थी आजादी
वीरों ने प्राण गंवाए हैं
वतन की खातिर झूल गए
जिस्म से लहू बहाए हैं

शहीदों की चिताओं पर
लगते हैं हर बरस मेले
पर सत्ता के परम लोभी
वतन से खूब थे खेले

सोने की चिड़िया भारत के
परों को नोचकर खाया
चूस लिया रक्त इसका
बस बची रही काया

70 साल की आजादी का
सही मायने में युग आया
जब नरेंद्र मोदी ने
देश का परचम लहराया

घुसखोरों से मिली आजादी
चोरों से मिली आजादी
लुटेरों से मिली आजादी
मक्कारों से मिली आजादी

अंधियारे से मिली आजादी
दमघोंटू धुंए से मिली आजादी
अपने खाते की आजादी
चकमक सड़कों की आजादी

बोलने की आजादी
लब खोलने की आजादी
सुगम व्यापार की आजादी
खेती-किसानी की आजादी

तीन तलाक से आजादी
370 से आजादी
आतंकवाद से आजादी
खुले में सांस की आजादी

 independence day Poem In Hindi 

आजादी की खुली हवा में
निकले सिना तान के
हम बच्चे हिन्दुस्थान के
हम बच्चे हिन्दुस्थान के

हम जिस मिटटी के अंकुर हैं
उसकी शान निराली है
उसके खेतो मे सोना हैं
बागो मै हरियाली हैं।

धन दौलत से ज्यादा ऊंचे
रिश्ते मा ओर संतान के
हम बच्चे हिन्दुस्थान के।

भारत मा के बेटे बेटी
जीते हैं हम शान से
हम बच्चे हिन्दुस्थान के।

सत्य अहिंसा पर आधारित
मौलिक धर्म हमारा है
परहित काचा धर्म है भाई
यही हमारा नारा है।
पथ कोई हो विधि कोई हो
बलिहारी भगवान के
हम बच्चे हिन्दुस्थान के।
हम बच्चे हिन्दुस्थान के।।

Short Poem On Independence Day In Hindi

अब देश है मेरा प्रगति पथ पर
दुनिया में झंडे गाड़ रहा
विश्व गुरु बनने को आतुर
भारत मेरा दहाड़ रहा
आगे ही बढ़ते जाना है
पीछे मुड़कर क्यों देखेंगे
वतन मेरा सबसे आला
हर बाजी को अब जीतेंगे

सस्ती नहीं थी आजादी
हमने ये समझा जाना है
नमो के संग बढ़ता भारत
आगे सफर सुहाना है
आगे सफर सुहाना है

 Independence day Hindi Kavita 

ये तिरंगा ये हमारी शान है
विश्व में भारत की पहचान है
ये तिरंगा हाथ में ले पग निरंतर ही बढ़े
ये ट्रिंग हाथ में लिए दुश्मनो से हम लड़े
ये तिरंगा दिल की धड़कन हमारी शान है

ये तिरंगा दुनिया का सबसे बड़ा जनतंत्र है
ये तिरंगा वीरता का सबसे बड़ा मंत्र है
ये तिरंगा दुनिया जन को सन्देश है
ये तिरंगा कह रहा अमर भारत देश है

ये तिरंगा इस धरा पर शांति का साधन है
इसके रेसो में बना भारत के बलिदानो का नाम है
ये तिरंगा ही हमारे भाग्य का भगवान् है
ये तिरंगा हर धर्म की राह का सम्मान है।

ये तिरंगा बाइबल और भगवत गीता का श्लोक है
ये तिरंगा आयत ए कुरान का आलोक है
ये तिरंगा वीर अर्जुन और ये हनुमान है।

Heart Touching Poem On Independence Day

देश के वीर जवानों ने
भारत भूमी की जान बचाई थी
तिरंगे की शान मै उन सपूतों ने
अपनी जान गंवाई थी।

उन शहदातो की बदौलत
आज निडर हम जीते हैं
उस तिरंगे का मान रखने के
लिए ये वजह क्या कम है

तिरंगा ना खरीदो अगर
कर ना सखो उसका सम्मान,
उसका अपमान है उन विरो
की कुर्बानियों का अपमान।

Hindi Independence Day Poem

स्वतन्त्र हुआ जब भारत देश
अंग्रेजो के राज से
खुशियां फैली चारो ओर
गीत संगीतो के साज से
मुश्किल घड़ियां रूकावटे
ओर युद्ध के मैदान में
लड़ता रहा हर देशभक्त
अपने अलग अंदाज में
अगस्त की 15 तारिक थी
1947 का था सन्
जीत गया था भारत
विपक्षियों के राज से
फहरे तिरंगे उड़ी पतंगे
आसमान मै नाज से
बच्चा बच्चा हस कर बोला
स्वतंत्रता मिल गई आज से।

अगर आपको हमारे द्वारा लिखे गए आर्टिकल Poem On Independence Day In Hindi पसंद आया हो तो अपने दोस्तो और परिवार के साथ शेयर करना न भूले और साथ ही कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेंट करके जरूर बताये। धन्यवाद 

Admin

Hello, My name is vishnu. I am a second-year college student who likes blogging. Please have a look at my latest blog on hindiscpe

View all posts by Admin →

Leave a Reply

Your email address will not be published.