rules of chess in hindi

शतरंज (चैस) खेलने के नियम, फायदा-rules of chess in hindi

आज हम आपको rules of chess in hindi के बारे में कुछ जानकारी देंगे | चेस जिसे शतरंज कहा जाता है यह एक बहुत ही पुराना खेल है जो बहुत ही पुराने जमाने से खेला जा रहा है इस खेल को खेलने के लिए बहुत ही दिमाग की जरूरत होती है और यह खेल बहुत ही अच्छा और जरूर रोचक पूर्ण होता है चेस बोर्ड में 2 लोग खेलते हैं जिसे समझने के लिए प्रयास की जरूरत होती है और इस खेल को खेलने से हमारा मानसिक व्यायाम होता है मनुष्य के जीवन में खेल के बहुत ही ज्यादा महत्व होते हैं यह और हर खेल मनुष्य के शरीर के हर हिस्से के लिए बहुत ही लाभदायक होता है जैसे फुटबॉल खेल पैरों के लिए चेस खेल दिमाग के लिए टेनिस के हाथ के लिए यदि शरीर को फिट रखने के लिए हम खेल बहुत ही ज्यादा उपयोगी होते हैं यह हमारे जीवन को मनोरंजन बनाए रखने के लिए यह जीवन में मनोरंजन बनाए रखने के लिए बहुत ही उपयोगी होते हैं और हमारे तनाव को दूर करने के लिए भी खेलों को खेला जाता है कुछ खेलें इंडोर तथा कुछ खेल आउट होते हैं मतलब है कि कुछ खेल तो घर में ही खेले जा सकते हैं लेकिन कुछ खेल ऐसे होते जिस को खेलने के लिए ग्राउंड की जरूरत होती है चेस इंडोर खेल है

चेस क्या होता है (rules of chess in hindi) 

यह एक ऐसा खेल है जिसकी कोई उम्र नहीं होती है लेकिन इसको खेलने के लिए समझदार बुद्धिमान व्यक्ति की जरूरत होती है और चेस खेलने की कोई उम्र सीमा नहीं होती जिसको किसी भी उम्र का व्यक्ति खेला जा सकता है लेकिन उसकी बुद्धिमता और समझदारी एक अच्छी होनी चाहिए और इस खेल को खेलने के लिए बड़े-बड़े लोग खेलते हैं और इसे खेल को बहुत पसंद करते हैं चैस बहुत ही ज्यादा रोचक धार गेम होता है जैसे खेलने के साथ लोगों को देखने में भी बहुत ही मजा आता है

चेस का इतिहास (rules of chess in hindi)

चेस खेल का वैसे तो कोई इतिहास कहीं लिखा हुआ नहीं है लेकिन कहते हैं कि आप से लगभग 2000 साल पहले चैस जैसा एक खेलता है जिसे लोग बहुत खेला करते थे 280 और 550 में जब गुप्त साम्राज्य था तब इस खेल की शुरुआत हो गई थी इसके बाद 12:00 सौ के दशक में आपस आसपास साउथ यूरोप में शतरंज खेल की शुरुआत हो गई फिर 1475 में आसपास इस खेल के बड़े बदलाव किए जिसे हम खेलते हैं आज इस खेल के साथ स्पेन और इटली ने अपनाया और चेस का खेल स्पेन और इटली का राष्ट्रीय खेल है

 चेस का लक्ष्य (Aim of chess game)

देश को खेलने के लिए दो लोगों की आवश्यकता होती है यह दोनों लोग एक दूसरे के विरोधी खेल में खेलते हैं चेस बोर्ड में 64 खाने होते हैं जो सफेद और काले रंग के होते हैं इसके अंदर टोटल 32 गोटिया होती है जिसमें हर एक खिलाड़ी के पास 16 -16 गोटी होते हैं 16 काली और 16 सफेद हर एक टीम के खिलाड़ी पास एक राजा होता है एक रानी होती है दो हाथी होते हैं दो घोड़े होते हैं 2 वोट होते हैं और आठ प्यादे होते हैं इस खेल में एक ही लक्ष्य होता है कि किस तरह सामने वाले के खिलाड़ी को शह या मात दे और शह या मात की स्थिति तब होती है जब सामने वाले के राजा की जगह पर कब्जा कर लिया जाए और उसे निकाल दिया जाए

 कितने लोगों की जरूरत  होती है ? 2 लोगों की
चेस कौनसा गेम है इनडोर या आउटडोर ? यह एक इनडोर गेम है.
इसको खेलने की कोई उम्र  नहीं होती लेकिन किसी टूर्नामेंट में होती है
चेसबोर्ड में कितने खाने होते हैं ? 40 खाने
चेस में कितनी गीटियां होती है ? 32 गीटी होती है जिनमे 16 के अनुपात में बांटा जाता है.
शतरंज की गीटियों के नाम ? , 2 हाथी, 2 ऊंट, 8 प्यादे, 2 घोड़ा,1 रानी एंव 1 राजा.
वर्गों की पहचान कैसे होती है ? शतरंज में 2 वर्ग काले और सफ़ेद कलर
विश्व शतरंज चैंम्पियनशिप की शुरुआत कब हुई ? 1886 में हुई थी.
भारत का सर्वश्रेष्ट शंतरज ख़िलाड़ी का नाम विश्वनाथन आनंद
शंतरज टूर्नामेंट कितने समय का होता है ? 1 min से 6 min तक
विश्व शतरंज दिवस कब मनाया जाता है ? 20 जुलाई को
भारत के 66वें शतरंज ग्रैंडमास्टर कौन बने ? जी आकाश

चेस को कैसे  खेला जाता है ( how to play chess) 

इस खेल के अंदर हर गोटी का अपना-अपना चलने का एक तरीका होता है और एक निश्चित चाल होती है सामने वाले की गोटी अगर सामने है और हमारी गोटी जा रही है तो उसको मार सकती है उसके ऊपर से नहीं जा सकती लेकिन अगर हमारी कोटि सामने रखी हो और हमारी फोटो पीछे से आ रही हो तो वह उसको मार नहीं सकती जो उसके ऊपर से नहीं जा सकती है

  • राजा – सबसे पहली बारी आती है राजा की और राजेश खेल के लिए सबसे ज्यादा मुख्य होता है जिसे बचाने के लिए पूरा खेल खेला जाता है लेकिन मुख्य होने के बावजूद भी यह सबसे कमजोर होता है यह सिर्फ एक ही कदम चल सकता है और एक ही दिशा ऊपर नीचे दाएं बाएं बस नी दिशाओं में राजा चल सकता है इसलिए सबसे ज्यादा कमजोर होता है और इसे बचाने के लिए यह पूरा खेल खेला जाता है
  • रानी – अपनी बारी आती है सबसे ज्यादा ताकतवर खिलाड़ी कि वह हैरानी जिसे बजीर भी कह सकते हैं जो कहते हैं यह सबसे ज्यादा बलशाली होता है जो किसी भी दिशा में तेजी सीधी आगे पीछे कितने भी वर्ग चल चल सकता है कितनी भी दूर जा सकता है
  • हाथी – अब बारी आती है हाथी की जो अपनी इच्छा अनुसार कितने भी वर्ग जा सकता है लेकिन यह सिर्फ खड़ा या लड़ाई जा सकता है यह अपेक्षा नहीं चल सकता हाथी भी ताकतवर होता है यह खिलाड़ी के पास दो होते हैं और दोनों मिलकर काम करते हैं और एक दूसरे की रक्षा के लिए यह दोनों साथ चलते
  • ऊँट – झूठ भी हाथी की तरह अपने अच्छा अनुसार कितने भी बड़े चल सकता है लेकिन यह सिर्फ तिरछी चाल चल सकता है और इसके आगे खिलाड़ी के पास दोनों होते हैं जो मिलकर काम करते हैं और अपनी कमजोरी को छुपा लेते हैं
  • घोड़ा – अब बारी आती है गोरा जी जो बाकियों से बहुत ही ज्यादा अलग है यह किसी भी दिशा में से ढाई चाल चलता है जिसे एल आकार भी कह सकते हैं वैसे ही चाल चलता है बुराई का अकेला ऐसा चीज है जो किसी अन्य के ऊपर से चल सकता है
  • प्यादा – ज्यादा एक सैनिक होता है जो सैनिक की तरह सैनिक के जैसे ही काम करता है यह सब एक कदम आगे चलता है लेकिन किसी अन्य को दीपोत्सव कर मारता है ज्यादा एक समय में एक ही बार चल सकता है और सिर्फ तेरी चाल में 2 वर्ग चल सकता है यह पीछे नहीं जा सकता ना ही यह मर सकता है अगर क्या देख सामने कोई आ जाए तो पीछे नहीं आ सकता मैं किसके सामने वाले को सीधे से मार सकता है यह सब चलता है

नोट – अगर ज्यादा चलता चलता दूसरे के पाले में पहुंच जाता है तो उसके पास एक स्पेशल अधिकार होता है जिससे यह दूसरी गोटी के रूप में बन सकता है उसे प्रमोशन भी कह सके

चेस खेल के मुख्य नियम (rules of chess in hindi)

केंसलिंग:- इस खेल में कुछ मुख्य नियम होते हैं इसमें दो चीज आप एक साथ विसर्जन कर सकते हैं राजा को बचाया जा सकता है साथ ही किसी भी हाथी को बीच खेल में लाया जा सकता है इसमें खिलाड़ी अपने राजा को 1 वर्ग की जगह 2 वर्ग चलाने का मौका दे सकता है साथ ही हाथी को राजा के बाजू में रखा जा सकता है यह राजा के द्वारा एक बारी कराया जा सकता राजा की एक ही चाल होनी चाहिए पहली और हाथी की भी एक ही चालू होनी चाहिए पहली राजा और हाथी के बीच में की कोठी नहीं होनी चाहिए राजा के ऊपर शह मात नहीं होनी चाहिए

शह या मात :- राजा को जब चारों तरफ से घेर लिया जाता है तो उसे शह हो जाती है और उसे बचा नहीं सकते तो शह या मात कहते हैं स्वयं आप से निकलने के लिए तरीका है उसे जगह से हटा दिया जाता है यह चेक के बीच दूसरी गोटी ले आ सकते हैं उसको मार दे

टाई या ड्रॉ :- खेल में कोई भी विजेता नहीं बन पाता है तो ऐसी स्थिति में खेल को ड्रॉ कर दिया जाता है रोने के पांच कारण हो सकते हैं दोनों खिलाड़ी राजी हो जाएगी फिर बंद कर दो तो डूब सकता है अगर बोर्ड में सहमत की गोटी नहीं बचे तो भी तो हो सकता है अगर खिलाड़ी उसे स्थिति में ड्रॉ हो सकता है जब तीन बार ऐसी स्थिति बन जाती है अगर कोई खिलाड़ी चलता है लेकिन उसके राजा को शह या मात नहीं है उसके बावजूद इसके पास कोई चाल चलने की जगह नहीं है तो भी खेल सकता है|

आज के इस लेख में आपको rules of chess in hindi के बारे में सम्पूर्ण जानकारी आप तक पहुचाने का प्रयास किया है आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते है और ऐसे ही हम आपको सभी प्रकार की जानकारी आप तक पहुचाहते रहेंगे

Admin

Hello, My name is vishnu. I am a second-year college student who likes blogging. Please have a look at my latest blog on hindiscpe

View all posts by Admin →

Leave a Reply

Your email address will not be published.