teacher s day speech in hindi

शिक्षक दिवस पर भाषण – Teachers Day Speech in Hindi

Teachers Day Speech in Hindi दोस्तों आज हमने शिक्षक दिवस पर भाषण लिखा है। शिक्षक हमरे जीवन का एक अभिन अंग है। शिक्षक दिवस गुरुजनो के सम्मान में मान्य जाता है। यह हर साल 5 सितम्बर को मनाया जाता है क्योकि इस दिन हमारे देश के दूसरे राष्ट्पति डॉ सर्वपल्ली  राधाकृष्ण का जन्म हुआ था।

Best Teachers Day Speech in Hindi

आदरणीय शिक्षक ओर मेरे प्यारे साथियों को सुप्रभात, आज के इस पावन पर्व पर हम सब यहां एकत्रित हुए हैं। में शिक्षक दिवस पर अपने कुछ विचार रखना चाहता हूं। अगर मुझसे कुछ गलती हो जाए तो क्षमा करना। किसी ने सच कहा है वो जो स्कूल के दरवाजे खोलता है और जेल के दरवाजे बंद करता है शिक्षक कहलाता है।

आज 5 सितम्बर है ओर इस दिन को हम शिक्षक दिवस के रूप में मनाते हैं। आज ही के दिन डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म हुआ था। गुरु के बारे मे क्या बताऊ कि एक गुरू सभ्य समाज का आधार होता है। गुरू ही एक ऐसा महान इंसान होता है जो अज्ञान के अंधकार में ज्ञान को दीपक जलता है। शिक्षक छात्रों का मार्गदर्शन करके उनके व्यक्तित्व को विकसित करते हैं।

देखा जाए तो किसी भी बच्चे को जन्म ओर उनका पालन पोषण माता पिता द्वारा होता है परन्तु शिक्षक उनके व्यक्तित्व के साथ साथ उनका भविष्य भी उज्वल बनाते हैं। गुरू एक प्रेरणा सागर है को हमे सफलता कामयाबी तक पहुंचता है। शिक्षक किसी भी देश के भाग्य को निर्माता होता है

उनके विचार हमे हमेशा आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते है. शिक्षक हमारे सच्चे मित्र ओर मार्गदर्शक होते है वह हमे संस्कारी जीवन जीने की प्रेरणा देते हैं। शिक्षक न केवल हमे किताबी ज्ञान देते हैं बल्कि हमे सामाजिक परिस्थितियों एवं समाज से अवगत करवाते हैं।

आज के इस मौके पर में ने ड्रॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का एक किस्सा सुनाता हूं। आपको यह तो पता ही होगा कि ड्रा राधाकृष्णन बड़े ही हाजिर जवाब थे। एक बार डॉ भारतीय दर्शन पर व्याख्यान देने के लिए इंग्लैंड गए। वहा बहुत संख्या में उनका भाषण सुनने लोग आए थे। तभी एक अंग्रेज़ ने उनसे पूछा कि हिन्दू नाम का कोई समाज है, संस्कृति है तुम ओर तुम्हारे लोग कितने बिखरे हुए हो तुम्हारे कितने रंग है कोई गोरा तो कोई काला, कोई धोती पहनता है तो कोई कुर्ता तो कोई कमीज़। देखो हम सभी अंग्रेज़ एक जैसे हैं एक ही रंग एक ही पहनावा। तो उस व्यक्ति को राधाकृष्णन ने उस व्यक्ति को जवाब दिया की। घोड़े एक ही रंग रूप के होते हैं. पर सभी गधे एक जैसे होते हैं।

शिक्षक हमरे जीवन की एक अनोखी कड़ी है हमें हमेशा उनका आदर और सम्म्मान करना चाहिए शिक्षक का स्थान हमरे जीवन में सबसे ऊपर होता है। वह हमारे जीवन के मार्गदर्शक है। वह हमें सामज के आयने को दिखाते है। जिस प्रकार शरीर को भोजन की आवश्यकता है उसी प्रकार हमें जीवन में कुछ करने आगे बढ़ने के लिए गुरु की जरुरत होती है। गुरु के आने से हमरा समाज को देखने का नजरिया बदल जाता है गुरु हमें अंधकार से प्रकाश की और ले जाता है।

आज शक्षक दिवस के मोके पर में एक कविता प्रस्तुत करता हु। और अपने शब्दो को समाप्त करता हूं। धन्यवाद।

भगवान ने दी ज़िन्दगी
माता पिता ने दिया प्यार
जीवन के हर पहलू को शिक्षित करने में
अपने शिक्षक का हूं शुक्रगुजार

यह भी पढ़े :

गणतंत्र दिवस पर निबंध-Essay On Republic Day In Hindi

अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया हो तो अपने मित्रो और परिवार के आठ शेयर करना न भूले और साथ ी कोई सवाल या सुझा वो तो कमेंट करके जरूर बातये

 

Admin

Hello, My name is vishnu. I am a second-year college student who likes blogging. Please have a look at my latest blog on hindiscpe

View all posts by Admin →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *